Thursday, 26 September 2013

एनएसईएल संकट से वित्त मंत्री ने पल्ला झाड़ा

वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने एक तरह से नेशनल स्पॉट एक्सचेंज (एनएसईएल) संकट से पल्ला झाड़ लिया है। पी चिदंबरम ने कहा है कि एनएसईएल किसी रेगुलेटर के दायरे में नहीं था और पहले दिन से ही उसका बिजनेस मॉडल संदेह के दायरे में था।

पी चिदंबरम के मुताबिक एनएसईएल घोटाले की जांच कॉरपोरेट मंत्रालय, आयकर विभाग के अलावा कई एजेंसियां कर रही हैं और अब इसकी शिकायत सीबीआई से भी की गई है।

वित्त मंत्री ने कहा है कि निवेशकों ने एनएसईएल में जानबूझकर पैसे लगाएं हैं। पी चिदंबरम के मुताबिक एनएसईएल पहले दिन से ही नियमों का उल्लंघन कर रहा था। एनएसईएल एक्सचेंज के तौर पर रजिस्टर्ड नहीं था, इसलिए एफएमसी के दायरे में नहीं था।

No comments:

Post a Comment

Blogroll